Vitamins Function | Vitamins List In Hindi | vitamin definition | classification of vitamins | vitamin ki khoj kisne ki | विटामिन के प्रकार | Vitamins Function

विटामिन कार्बनिक पदार्थों के समूह में से एक है। प्राकृतिक खाद्य पदार्थों में पर्याप्त मात्रा में मौजूद हैं, जो सामान्य चयापचय (metabolism) के लिए आवश्यक हैं। इसकी आहार में अपर्याप्त मात्रा से बीमारियां हो सकती हैं।

आओ चलो Vitamins Function & List | Vitamin ki Khoj Kisne Ki के बारे में विस्तार से चर्चा करते है |

विटामिन (Vitamin)

  • 1885 में डच वैज्ञानिक ऐजिकमेन ने चूजों पर किए गए प्रयोग से यह जाना कि शरीर में विटामिन नामक महत्त्वपूर्ण रासायनिक तत्त्वों की उपस्थिति होती हैं। 1886 में ऐजिकमेन ने इंडोनेशिया में फैला बेरी-बेरी नामक बीमारी से लोगों को मरते देखा तो वे इसके कारणों की खोज में जुट गए।
  • सभी तत्त्वों का अध्ययन करने के बाद उन्होंने यह सिद्ध कर दिया कि बेरी-बेरी रोग का कारण भोज्य पदार्थों में विटामिन की कमी होना है ऐजिकमेन की यह खोज अपूर्ण ही रही , क्योंकि न तो वे विटामिनों का महत्त्व जान पाए और न ही उनके स्रोतों का पता लगा सके।
  • आज हम विटामिनों के विषय में जितना कुछ भी जानते है, उसका श्रेय जाता है ब्रिटेन के वैज्ञानिक सर एफजी हापकिंस को। हापकिंस ने 1912 में यह सिद्ध किया कि शरीर को स्वस्थ रखने के लिए निश्चित मात्रा में विटामिनों की आवश्यकता होती है।
  • सभी विटामिन 1913 और 1948 के बीच खोजे गए थे। 1935 से पहले विटामिन का एक मात्र स्रोत भोजन से था। यदि विटामिन की पर्याप्त मात्रा शरीर को नहीं मिलाती तो कई बीमारियां हो सकती हैं।
  • अब व्यावसायिक रूप से उत्पादित टैबलेट उपलब्ध हैं। इसके बाद 1950 के दशक में मल्टीविटामिन सहित विटामिन की खुराक के बड़े पैमाने पर उत्पादन और विपणन के द्वारा किया इसके बाद 1950 के दशक में विटामिन और मल्टी विटामिन्स का बड़े पैमाने पर उत्पादन और विपणन किया गया,जनता में विटामिन की कमी को रोकने के लिए।
  • पर्याप्त विटामिन प्राप्त करने का सबसे अच्छा तरीका विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थों के साथ संतुलित आहार लेना है। कुछ मामलों में आपको विटामिन की खुराक (supplements) लेने की आवश्यकता हो सकती है, किसी भी प्रकार की खुराक को लेने से पहले चिकित्सक की सलाह लेनी चाहीये कुछ विटामिन की उच्च खुराक समस्याओं का कारण बन सकती है।

विटामिन के प्रकार (Types of vitamins)

  • विटामिन 13 प्रकार के होतेहै:
  • Vitamin A
  • Vitamin B complex
  • [ Vitamin B1 (Thiamine), Vitamin B2 (Riboflavin), Vitamin B3 (Niacin), Vitamin B5 (Pantothenic acid),Vitamin B6 (Pyroxidine), Vitamin B7 (Biotin), Vitamin B9 (folate), Vitamin B12 (Cobalamin) ]
  • Vitamin C
  • Vitamin D
  • Vitamin E
  • Vitamin K

और पढ़ें:– मधुमेह क्या है?

अस्थमा क्या है?

Egg Benefits For Hair In Hindi

विटामिन दो समूहों में विभाजित हैं { Vitamins Function }:-

पानी में घुलनशील विटामिन :- ये पानी में आसानी से घुल जाते हैं। इसलिए वे शरीर में संग्रहीत नहीं होते हैं और मूत्र के माध्यम से बाहर निकल जाते हैं। पानी में घुलनशील विटामिन निम्नलिखित हैं:
विटामिन बी 1 से विटामिन बी 12 तक और विटामिन सी

वसा में घुलनशील विटामिन :- ये पानी में नहीं घुलते इसीलिए ये वसा के रूप में शरीर में संग्रहीत रहते हैं। वसा में घुलनशील विटामिन निम्नलिखित हैं : –

  1. विटामिन सी
  2. विटामिन डी
  3. विटामिन ई
  4. विटामिन के
Vitamin potassium

विटामिन के कार्य

  • विटामिन ए: यह आँखों, दांतों,  त्वचा, कोमल ऊतक के लिए अच्छा होता है।
  • विटामिन बी : यह प्रतिरक्षा प्रणाली, लौह अवशोषण, ऊर्जा उत्पादन में मदद करता हैं।
  • विटामिन सी : यह रक्त वाहिकाओं को मजबूत बनाने, त्वचा की लोच, एंटी-ऑक्सीडेंट फ़ंक्शन और लोहे के अवशोषण में मदद करताहैं।
  • विटामिन डी : मजबूत और स्वस्थ हड्डियों के लिए अच्छा है।
  • विटामिन ई : मुक्त कण से अच्छा संरक्षण और रक्त परिसंचरण में सुधार करता है।
  • विटामिन K: रक्त जमावट के लिए अच्छा है।

दैनिक आहार में महत्वपूर्ण विटामिन और खनिज

डॉक्टरों और पोषण विशेषज्ञ के अनुसार सबसे महत्वपूर्ण विटामिन और खनिज जो आपको अपने दैनिक आहार में भोजन को पूरक करने के लिए लेने की आवश्यकता हो सकती है, उनमें निम्नलिखित शामिल हैं

और पढ़ें:– केले की शुद्धता पता करने का तरीका

विटामिन डी (Vitamin D)

  • विटामिन डी आपके शरीर को कैल्शियम को अवशोषित करने में मदद करता है। यह मजबूत हड्डियों के निर्माण और रखरखाव के लिए एक महत्वपूर्ण तत्व है।
  • जब आपको पर्याप्त विटामिन डी नहीं मिलता है, तोआपके शरीर में हड्डी के द्रव्यमान को खोने, पीठ दर्द और बालों का झड़ना जैसी समस्या हो सकती है। आपके अधिक बार बीमार होने की संभावना बढ़ जाती है।
  • विटामिन डी वाले खाद्य पदार्थों में वसायुक्त मछली (fatty fish), अंडे की जर्दी (egg yolks), दूध (milk), रस (juice) और अनाज (cereals) जैसे गढ़वाले खाद्य पदार्थ (fortified foods) शामिल हैं।

मैग्नीशियम (Magnesium)

  • मैग्नीशियम आपके हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए भी महत्वपूर्ण है। इसकेअलावा, मैग्नीशियम शरीर को ऊर्जा पैदा करने, प्रोटीन बनाने और रक्त शर्करा के स्तर को संतुलित करने में मदद करता है। इसके अलावा, यह मांसपेशियों और तंत्रिका कार्यों को नियंत्रित करता है और डीएनए बनाने में भी मदद करता है।
  • मैग्नीशियम प्रदान करने वाले खाद्य पदार्थों में पालक (Spinach), आटिचोक (artichoke), सोयाबीन (soyabean), सेम (beans), टोफू (tofu), ब्राउनराइस (brown rice), कद्दू (pumpkin) और नट्स(nuts) शामिल हैं।

कैल्शियम (Calcium)

  • मजबूत हड्डियों और दांतों के लिए कैल्शियम की आवश्यकता होती है, खासकर महिलाओं में क्योंकि महिलाएं पुरुषों से पहले हड्डियों के घनत्व (bone density) को कम करना शुरू कर देती हैं।
  • कैल्शियम पाने के लिए अच्छे खाद्य पदार्थों में फोर्टीफाइड अनाज (fortified cereals), दूध (milk), पनीर (cheese), दही (yogurt) और नमकीन मछली (salty fish) शामिल हैं।
  • अन्य कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ ब्रोकोली और केल, नट्स और नट बटर, बीन्स और दाल हैं।

जस्ता (Zinc)

  • वृद्ध लोगों और बहुत अधिक तनाव में रहने वाले लोगों में जिंक का स्तर कम होता है। जिंक आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली (immune system) को सहयोग करता है और आपके शरीर को ऊर्जा के लिए कार्बोहाइड्रेट (carbohydrate), प्रोटीन (protein) और वसा (fat) का उपयोग करने में मदद करता है। यह घावों को तेजी से ठीक करने में भी मदद करता है।
  • जिंक विभिन्न खाद्य पदार्थों में पाया जा सकता है जैसे घास खाया हुआ बकरा (grass-fed beef), पालक (Spinach) और भूरे चावल(Brown rice)

आइरन (Iron)

  • आयरन के सबसे महत्वपूर्ण लाभों में ऊर्जा को बढ़lना, बेहतर मस्तिष्क कार्य और लाल रक्त कोशिकाएं को स्वस्थ रखना शामिल हैं।
  • लोहे में उच्च खाद्य पदार्थों में लाल मांस, पालक, फलियां, क्विनोआ, ब्रोकोली, और डार्क चॉकलेट शामिल हैं।

फोलेट (folate)

  • फोलेट या फोलिक एसिड आपके नाखूनों को स्वस्थ रखता है, सूजन को कम करता है और अवसाद को दूर करने में भी मदद करता है।
  • फोलेट गर्भवती महिलाओं के लिए विशेष रूप से महत्वपूर्ण है क्योंकि यह जन्म दोषों को रोकती है।

विटामिन बी 12 (Vitamin B 12 )

  • विटामिन बी 12 आपके द्वारा खाए गए भोजन में सूक्ष्म पोषक तत्वों को तोड़कर आपके शरीर की ऊर्जा आपूर्ति को बनाने और बनाए रखने में मदद करता है।
  • यह शरीर की तंत्रिका और रक्त कोशिकाओं को स्वस्थ रखने का काम करता है और डीएनए बनाने में मदद करता है।
  • शाकाहारियों को विटामिन बी 12 की कमी का खतरा होता है क्योंकि बी 12 के अधिकांश स्रोत मांस, मुर्गी, मछली और अंडे जैसे जानवर हैं।

ओमेगा 3 ( omega 3 )

  • हालिया शोध इंगित करता है कि ओमेगा 3 हृदय स्वास्थ्य, मस्तिष्क समारोह और मनोदशा में एक भूमिका निभाता है।
  • ओमेगा 3 एक फैटी एसिड है जो मछली में भरपूर मात्रा में होता है (विशेषकर सामन, टूना, मैकेरल और झील ट्राउट)। यह मछली के तेल, फ्लेक्स सीड, अखरोट, अंडे, दही, जूस और दूध में भी पाया जाता है।
  • सी-बकथार्न पूरी दुनिया का कोई ऐसा पहला या अंतिम फल है जिसमें भरपूर मात्रा में ओमेगा फैटी एसिड 3,6,7 और 9 पाया जाता है।

सभी विटामिन और खनिज आसानी से उपलब्ध दैनिक खाद्य पदार्थों में स्वाभाविक रूप से पाए जाते हैं। हालाँकि, कुछ लोगों को यह सुनिश्चित करने में मदद मिल सकती है कि वे सप्लीमेंट फॉर्म में लें ताकि वे सही मात्रा में प्राप्त कर सकें। कोई भी सप्लीमेंट डॉक्टरों की सलाह से लेना चाहिए।

कुछ तथ्य

  • मानव शरीर को विटामिन सी उपभोग करना पडता है जबकि कुत्तों को विटामिन सी लेने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि कुत्ते अपने शरीर में विटामिन सी को संश्लेषित कर सकते हैं।
  • आपने लोगों को कहते सुना होगा कि धूप में बैठने से विटामिन डी मिलता है। लेकिन ऐसा नहीं होता है क्योंकि जब भी मानव शरीर धूप में उजागर होता है, तो वह विटामिन डी को संश्लेषित करने में सक्षम हो जाता है।

आपको Vitamins Function & List | Vitamin Ki Khoj Kisne Ki यह जानकारी कैसी लगी कमेंट बॉक्स ने लिखकर जरूर बताए | कोई जानकारी रह गई और आपके कोई प्रश्न हो तो कमेंट बॉक्स में लिखें हम जल्द से जल्द आपको जवाब देने की कोशिश करेंगे।
अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगे और आपको ऐसी जानकारी पड़ना और अपनी नॉलेज को बढ़ाना चाहते हो तो दिए गए न्यूज़लैटर बॉक्स में अपनी डिटेल भरकर सब्सक्राइब करे
जिससे आपको ई- मेल के जरिए समय – समय नई जानकारी के लिए अपडेट कर सके धन्यवाद।

Show 6 Comments

6 Comments

    • Pramod Jangid

      Thank You So Much For Appreciation
      Please Visit Regularly Our Blog For Health Information.

    • Pramod Jangid

      Thank You So Much For Appreciation
      Please Visit Regularly Our Blog For New Health Information.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *