Pristyn Care के बारे में जानने के लिए हमने Pristyn Care में उपचार करवा चुके कई लोगों से बात की, जिसमें अंकिता भी शामिल थी। अंकिता ने उनकी बीमारी के जन्म से लेकर अंत तक की पूरी बात बताई। उन्होंने बताया कि कैसे उन्होंने Pristyn Care में अपना अपॉइंटमेंट बुक किया और उनकी लेजर सर्जरी कैसे हुई…जब हमने उनके इस समीक्षा को अपने ब्लॉग में पब्लिश करने का परमिशन लिया तो उन्होंने हाँ कह दिया, आइये जानते हैं कि उन्होंने क्या-क्या बताया।

अंकिता कहती हैं

मैं दिल्ली की रहने वाली हूँ, मैं एक कम्पनी में Analyst हूँ। मैं अपना अधिक समय कुर्सी में बैठे हुए बिताती हूँ। ज्यादा देर तक कुर्सी में बैठे-बैठे धीरे-धीरे मुझे कब्ज की समस्या होने लगी और मैं इसे नजरअंदाज करती रही। जब मैं टॉयलेट जाती थी तो मुझे स्टूल पास करने में मुझे बहुत जोर लगाना पड़ता था।

ये सिलसिला तकरीबन 1 साल तक चलता रहा। एक दिन मुझे एनस क्षेत्र में तेज खुजली हो रही थी, मैं सोची कि यह एनस में गीलेपन की वजह से हो सकती है। लेकिन जब ये रोज-रोज होने लगा तो मुझे लगा कि यह किसी इन्फेक्शन की वजह से हो सकता है और मैं त्वचा रोग विशेषज्ञ के पास गई, उन्होंने एनस क्षेत्र की जांच की तो बताया कि मेरे एनस की नसों में सूजन है और मुझे इसके लिए एनस रोग विशेषज्ञ के पास जाना चाहिए।

यह सुनकर मैं थोड़ी सहमी-सहमी थी। मेरे पति ने Pristyn care में ऑनलाइन अपॉइंटमेंट बुक किया और दूसरे दिन मैं अपने पति के साथ पास की Pristyn care क्लीनिक में गई वहां डॉक्टर पंकज सरीन थे, पंकज सरीन को मैंने अपनी सभी बातें बताई तो उन्होंने मुझे बहुत डांटा और मेरे एनस क्षेत्र की जांच के लिए कहा।

क्लीनिक में महिला नर्स भी थीं। पंकज सरीन ने मेरे एनस की जाँच की और घर जाने को कहा। शाम को मुझे Pristyn Care से एक रिपोर्ट आई और पता चला कि मैं ग्रेड-2 के बवासीर से पीड़ित थी, डॉक्टर ने इसे बढ़ने से रोकने के लिए और ओपन सर्जरी से बचने के लिए इसका लेजर उपचार करवाने की सलाह दी।

मैं खुद को कोस रही थी कि अगर मैंने कब्ज को कंट्रोल कर लिया होता तो मुझे बवासीर नहीं होता। हालांकि, डॉक्टर ने कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि बवासीर का ग्रेड ज्यादा अधिक नहीं है और इसे बिना किसी चीर-फाड़ के लेजर सर्जरी के जरिए ठीक किया जा सकता है।

मेरे पति ने डॉक्टर से ओपन सर्जरी समेत बवासीर की कई सर्जरी के बारे में जाना और मुझे बताया। उन्होंने कहा कि मेरे लिए लेजर सर्जरी अच्छा होगा क्योंकि, इसमें कोई ब्लीडिंग नहीं होती है और इलाज के बाद 24 घंटे के भीतर अस्पताल से छुट्टी मिल जाती है और मैं 2 दिन में चलना-फिरना और अपने सभी सामान्य काम करना शुरू कर सकती हूँ, ऑफिस भी जा सकती हूँ। मुझे बहुत राहत मिली, मेरे पति और मैंने एक दूसरे से बात की और सर्जरी के लिए लेजर प्रक्रिया का चयन करना उचित समझा।

बातचीत करने के बाद हमने अगले दिन ही सर्जरी के लिए Pristyn Care में अपॉइंटमेंट लिया। अगले दिन Pristyn Care की केयर बडी टीम में से एक लड़की मेरे घर आई और कैब में मुझे हॉस्पिटल ले गई। मेरे पति किसी बड़े काम से मेरे साथ नहीं आ सके और इसलिए मैं थोड़ी परेशान थी, लेकिन उन्होंने मुझे बताया था कि तुम्हे कोई काम नहीं करना पड़ेगा पूरी टीम ऑपरेशन के शुरू से लेकर ऑपरेशन के अंत तक सभी काम करेगी और घर भी छोड़ देगी।

हॉस्पिटल में मेरे सर्जरी की तैयारी पहले ही हो चुकी थी इसलिए मुझे इंतजार नहीं करना पड़ा और नर्स के साथ मैं ऑपरेशन रूम में चली गई। ऑपरेशन रूम में दो नर्स थीं और डॉक्टर पंकज सरीन थे। नर्स ने मुझे एक इंजेक्शन लगाया, पता नहीं मुझे कब नींद आ गयी। इसके बाद क्या हुआ मुझे नहीं पता लेकिन, करीब एक घंटे बाद जब मेरी आँखें खुली तो मैं रिकवरी रूम में थी। मेरे एनल में कोई दर्द नहीं हो रहा था, और मैं रूम में टहल पा रही थी।

हॉस्पिटल बहुत साफ था और नर्स एवं डॉक्टर का स्वभाव बहुत अच्छा था, सर्जरी के बाद डॉक्टर ने कुछ दवाइयां लिखी और डाइट के बारे में बताया। उन्होंने मुझे एक लैक्सेटिव भी दिया, इससे मुझे कब्ज नहीं हो रहा था।

इलाज के बाद डॉक्टर ने 2 से तीन बार मेरे स्वास्थ्य की जांच की और 10 घंटे बाद अस्पताल से मुझे छुट्टी मिल गई। Pristyn Care की केयर बडी टीम ने सर्जरी के समय के सभी प्रकार के कागजी काम में मेरी मदद की और मेरी सर्जरी होने के बाद उन्होंने कैब से दोबारा मुझे मेरे घर छोड़ दिया।

जैसे कि डॉक्टर से उपचार के पहले बताया था कि सर्जरी के समय मुझे कोई रक्तस्त्राव नहीं होगा और मैं दो दिन बाद मैं ऑफिस जा सकूंगी। 2 दिन बाद मैं ऑफिस जाने लायक हो गयी थी, लेकिन मैं ऑफिस एक सप्ताह बाद गई। रिकवरी के समय मुझे कोई दर्द नहीं हुआ।

जाँच से लेकर इलाज तक का मेरा Pristyn Care का सफर बहुत अच्छा था, मैं डॉक्टर पंकज सरीन को धन्यवाद दूँगी कि उन्होंने बड़ी सरलता से मेरी सर्जरी बिना दर्द के पूरी की।

Leave a Comment

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *