Pregnancy Symptoms In Hindi | प्रेगनेंसी के लक्षण | प्रेगनेंसी के लक्षण इन फर्स्ट वीक | पीरियड आने से पहले प्रेगनेंसी के लक्षण

  • महिला को गर्भवती होने का अहसास उसकी ज़िंदगी को सबसे अच्छा अहसास होता है। उस जैसे ही गर्भवती होने का पता चलता है उसकी खुशी का ठिकाना ही नहीं होता है।
  • वैसे तो गर्भवती होने की सूचना साथ के कई शारीरिक बदलाव व समस्याओं का अंदेशा लाती है।
  • अगर गर्भ के पहले महीने से सभी जरूरी जानकारी जान ली जाए तो गर्भावस्था से जुड़ी परेशानी को काफी हद तक कम किया जा सकता है।
  • दरअसल प्रेग्नेंसी के पहले महीने में और पहली बार प्रेग्नेंट होने वाली महिलाओं के पास जानकारी नहीं होती है। कई बार तो उनके पास प्रेग्नेंट होने की जानकारी भी नहीं होती है।
  • इसीलिए हम आपको प्रेग्नेंसी के पहले महीने की जानकारी बता रहे हैं।

मुनक्का और दूध के फायदे

Contents hide

गर्भवती होने के लक्षण ( Pregnancy Symptoms In Hindi )

  • प्रेग्नेंसी की पहले महीने में गर्भवती महिला के शरीर में कई बदलाव होते हैं। इन बदलाव के बारे में सही जानकारी नहीं होने से कई बार गर्भवती महिलाएं घबराहट और तनाव का शिकार हो जाती है।
  • गर्भवती महिलाओं को प्रेग्नेंसी के पहले महीने में कुछ ऐसे लक्षण ( Pregnancy Symptoms In Hindi ) नजर आए तो घबराना नहीं चाहिए।

और पढ़ें:– 2 महीने गर्भावस्था के लक्षण | गर्भावस्था के दूसरे महीने में क्या खाए

और पढ़ें:– गर्भावस्था के तीसरे महीने के बाद भ्रूण शारीरिक विकास | गर्भवती महिलाओं में बदलाव

आइए जानते हैं गर्भवती होने के लक्षण ( प्रेगनेंसी के लक्षण )

1. मासिक धर्म का रुक जाना

  • मासिक धर्म का रुकना प्रेग्नेंसी की शुरुआत का संकेत माना जाता है। किसी महिला के गर्भवती होते ही उसके शरीर में प्रोजेस्‍टेरोन हार्मोन बनना शुरू हो जाते हैं। इसी हार्मोन की वजह से मासिक धर्म बंद हो जाता है।

2. रक्तस्राव और ऐंठन

  • जब गर्भाशय में अंडा निषेचित होता है। जब गर्भ धारण करने वाली महिला को हल्का रक्तस्राव हो सकता है और शरीर में ऐंठन भी महसूस हो सकती है। गर्भ धारण के एक सप्ताह बाद गर्भवती के शरीर में ये दोनों दिखाई दे सकते हैं।

3. मूड स्विंग होना

  • प्रेग्नेंसी के पहले महीने में गर्भवती महिला के व्यवहार में काफी बदलाव नजर आने लगते हैं। ये बदलाव गर्भवती महिला के शरीर में हार्मोन के बदलाव की वजह से होते हैं।
  • इस दौरान गर्भवती महिला का मूड बदलता रहता है। वह किसी भी बात पर चिड़ जाती है। उस बेवजह रोना आ सकता है

4. स्तनों को टाईट होना

  • प्रेग्नेंसी के पहले महीने में गर्भवती महिला के स्तन टाईट हो जाते हैं। उनमें हल्का सा दर्द भी होता है। स्तनों में सूजन भी आ सकती है।

5. निप्पल का रंग बदलना

  • इस दौरान निप्पल मे भी बदलाव नजर आ सकता है। हार्मोन्स में बदलाव होने की वजह से मेलेनोसाइट्स प्रभावित होते हैं। इससे उन मेलेनीन का उत्पादन होता है जिससे त्वचा का रंग गहरा हो जाता है।
  • इसी वजह से निप्पल का रंग ज्यादा गहरा नजर आ सकता है।

6. थकान होना

  • प्रेग्नेंसी के पहले महीने में बिना कुछ किए ही गर्भवती महिला को थकान महसूस हो सकती हैं। इस दौरान उसे सोने में भी परेशानी हो सकती है।

7. बार बार पेशाब लगाना

  • शरीर में प्रोजेस्ट्रॉन हार्मोन के असर बनने के कारण पहले महीने में गर्भवती महिला को बार बार पेशाब लगने लगता है।

8. मॉर्निंग सिकनेस होना

  • गर्भवती महिला को सुबह सुबह जी मिचलाने, चक्कर आने, उल्टी होने जैसी समस्या होने लगती है।

9. खाने की रुचि और पसंद में बदलाव

  • प्रेग्नेंसी के पहले महीने में गर्भवती महिला की खान पान से जुड़ी रुचि और पसंद में बदलाव नजर आ सकता है।
  • वो कोई इसी चीज खाने लग सकती है जो उसे पहले पसंद नहीं थी। इस टाइम बार बार भूख लग सकती है।

10. सीने में जलन

  • प्रेग्नेंसी के पहले महीने में गर्भवती महिला के सीने में जलन होने की समस्या हो सकती है। जो सामान्य बात है घबराना नहीं चाहिए। वैसे सीने में जलन होने पर डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

11. कब्ज

  • गर्भवती महिला के शरीर में प्रोजेस्ट्रॉन हार्मोन के असर बनने के कारण कब्ज की भी समस्या हो सकती है।
  • प्रेग्नेंसी के पहले महीने में कब्ज का होना सामान्य बात है।

12. सूंघने की क्षमता में वृद्धि

  • गर्भवती महिला की सूंघने की क्षमता में वृद्धि हो जाती है।

13. सिर दर्द होना

  • गर्भावस्था के शुरुआती दिनों में शरीर में होने वाले हार्मोन बदलाव से गर्भवती महिला को सिर दर्द होने लगता है।

14. पेट के निचले हिस्से में दर्द होना

  • प्रेग्नेंसी के पहले महीने में गर्भ में भ्रूण प्रत्यारोपित होता है।
  • इसकी वजह से गर्भवती महिला के पेट के निचले हिस्से में दर्द होने लगता है।

15. पीठ में दर्द होना

  • गर्भवती महिला को पीठ में दर्द की शिकायत हो सकती है। ये गर्भावस्था के शुरुआती लक्षण है इसीलिए घबराना नहीं चाहिए।

प्रेग्नेंसी के पहले महीने में लिए जाने वाले आहार

प्रेग्नेंसी की शुरुआत में गर्भवती महिला को ज्यादा मात्रा में पोषक तत्वों की जरूरत पड़ती है। इस जरूरत को पूरा करने के लिए उन्हे अच्छा भोजन लेना चाहिए।
आइए जानते हैं प्रेग्नेंसी के पहले महीने में क्या खाना चाहिए

1. फोलेट

  • प्रेग्नेंसी की शुरुआत में गर्भवती महिला को फोलेट से भरपूर खाद्य पदार्थ जैसे ब्रोकोली, संतरे का सेवन करना चाहिए।

2. विटामिन बी 6

  • गर्भवती को गर्भ धारण करते ही विटामिन बी 6 से भरपूर खाद्य पदार्थ जैसे केला, साबुत अनाज, सूखे मेवे खाने चाहिए।

3. फाइबर

  • गर्भावस्था के शुरुआत में फाइबर युक्त फलों का सेवन करना चाहिए। इस दौरान गर्भवती को दिन में कम से कम तीन तरह के फल खाने चाहिए।

4. दूध

  • दूध से बने उत्पादों और दूध का सेवन भी गर्भावस्था में फायदेमंद माना जाता है।

5. आयरन

  • गर्भवती को प्रेग्नेंसी की शुरुआत में आयरन से भरपूर खाद्य पदार्थ जैसे पालक, चुकंदर को अपने आहार में शामिल करना चाहिए।

प्रेग्नेंसी में क्या नहीं खाए

प्रेग्नेंसी की शुरुआत में कुछ चीजों को खाने से गर्भवती महिला और भ्रूण को नुकसान हो सकता है।
आइए जानते हैं गर्भवती महिलाओं को क्या नहीं खाना चाहिए।

1. समुद्री भोजन

  • गर्भवती को केवल कम पारे वाले समुद्री भोजन को ही करना चाहिए।
  • अगर भोजन मे पारे का स्तर ज्यादा है तो भ्रूण को नुकसान हो सकता है।

2. पैकेट वाली चीजें

  • गर्भवती को प्रेग्नेंसी की शुरुआत में डिब्बा बंद चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • साथ ही माइक्रोवेव में बनाई गई चीजें जैसे केक, बिस्किट आदि से परहेज़ ही करना चाहिए।

3. जंक फूड और शराब

  • गर्भावस्था के दौरान जंक फूड और शराब, तम्बाकू का सेवन बिल्कुल भी नहीं करे।

4. केफिन वाली चीजें

  • गर्भवती केफिन वाली चीजें जैसे चाय, कॉफी, चॉकलेट का सेवन भी नहीं करे।

और पढ़ें:– अंजीर खाने के फ़ायदे

आपको Pregnancy Symptoms In Hindi | प्रेगनेंसी के लक्षण यह जानकारी कैसी लगी कमेंट बॉक्स ने लिखकर जरूर बताए | कोई जानकारी रह गई और आपके कोई प्रश्न हो तो कमेंट बॉक्स में लिखें हम जल्द से जल्द आपको जवाब देने की कोशिश करेंगे।
अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगे और आपको ऐसी जानकारी पड़ना और अपनी नॉलेज को बढ़ाना चाहते हो तो दिए गए न्यूज़लैटर बॉक्स में अपनी डिटेल भरकर सब्सक्राइब करे और दिए गए Bell Icon को जरूर दबाए
जिससे आपको ई- मेल और
Mobile Notification के जरिए समय – समय नई जानकारी के लिए अपडेट कर सके धन्यवाद।

Show 3 Comments

3 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *