कलौंजी के फायदे | Kalonji Benefits in Hindi | Nigella Sativa Oil Benefits for Skin | कलौंजी में पोषक तत्व | Benefits Nigella Sativa | कलौंजी के नाम | कलौंजी के फायदे हिंदी


आजकल की बिजी लाइफस्टाइल में हम सही तरीके से अपना ध्यान नहीं रख पाते हैं। जिससे हम बीमारियो की चपेट में आ जाते है। मगर हम में से कुछ लोग इस बात को नहीं जानते कि हमारी किचन में कई ऐसे मसाले पाए जाते हैं जो हमे इन बीमारियो से दूर रखने में मदद करते हैं।
ऐसे ही एक मसाले को कलौंजी के नाम से जाना जाता है। देखने में कलौंजी छोटी सी होती हैं लेकिन पोषक तत्वों का भंडार होती है। कलौंजी का रोजाना सेवन करने से हम स्वस्थ्य रहते हैं साथ ही साथ यह हमे झड़ते व सफेद बाल, स्कीन की समस्या से छुटकारा दिलाती है।
आइए आज हम आपको बताते हैं क्यों कलौंजी को सेहत के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद और लाभकारी माना जाता है।


आजकल की बिजी लाइफस्टाइल में हम सही तरीके से अपना ध्यान नहीं रख पाते हैं। जिससे हम बीमारियो की चपेट में आ जाते है। मगर हम में से कुछ लोग इस बात को नहीं जानते कि हमारी किचन में कई ऐसे मसाले पाए जाते हैं जो हमे इन बीमारियो से दूर रखने में मदद करते हैं।
ऐसे ही एक मसाले को कलौंजी के नाम से जाना जाता है। देखने में कलौंजी छोटी सी होती हैं लेकिन पोषक तत्वों का भंडार होती है। कलौंजी का रोजाना सेवन करने से हम स्वस्थ्य रहते हैं साथ ही साथ यह हमे झड़ते व सफेद बाल, स्कीन की समस्या से छुटकारा दिलाती है।
आइए आज हम आपको बताते हैं क्यों कलौंजी को सेहत के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद और लाभकारी माना जाता है।

और पढ़ें:– मधुमेह क्या है?

अस्थमा क्या है?

Egg Benefits For Hair In Hindi

कलौंजी के नाम

आमतौर पर आपको हर भारतीय घर में कलौंजी मिल जाएगी। इसको मसाले की तरह इस्तेमाल किया जाता है।
हिंदी में कलौंजी, मंगरेला
बंगाली में मुगरेला
गुजराती में कलौंजी इसे ब्लैक ऑनियन सीड्स ( black onion seeds) या Nigella seeds भी कहा जाता है।

कलौंजी में पोषक तत्व

  • 100 ग्राम कलोंजी ने पोषक तत्व
    • कैलोरी- 345
    • कुल वसा – 15 ग्राम
    • संतृप्त वसा – 0.5 ग्राम
    • असंत्रप्त वसा – 1.7 ग्राम
    • कोलेस्ट्रॉल – 0 mg
    • सोडियम – 88 mg
    • कार्बोहाइड्रेट – 52 ग्राम
    • फाइबर – 40 ग्राम
    • प्रोटीन – 16 ग्राम
    • विटामिन ए – 2%
    • विटामिन सी – 35%
    • केल्शियम – 119%
    • आयरन – 102%
    • विटामिन डी – 0%
    • विटामिन बी 6 – 25%
    • मैग्नीशियम – 96%

कलौंजी के फायदे

1 डायबिटीज के मरीजों के लिए

रोजाना सुबह खाली पेट गुनगुने पानी के साथ कलौंजी खाने से डायबिटीज और एसिडिटी की परेशानी से जल्दी छुटकारा मिल जाता है। आप चाहे तो एक कप ब्लैक टी में आधा चम्मच कलौंजी का तेल मिलाकर दिन में दो बार इसका सेवन कर सकते हैं। यह डायबिटीज को नियंत्रित रखती है।

2 केंसर के लिए

कई शोधों में यह बात साबित हुई है कि कलौंजी का तेल केंसर जैसी बीमारियों के लिए भी कारगर है। अगर आप एक दिन में कम से कम दो तीन चम्मच कलौंजी के तेल को एक गिलास अंगूर के रस में मिलाकर इसका सेवन करें तो आपको केंसर में बहुत फायदा होगा।

3 खांसी दूर करे

गर्म पानी में कलौंजी का तेल मिलाकर भाप लेने से खांसी आपका पीछा छोड़ देगी।

4 सुंदर बालो के लिए

बालो के लिए कलोंजी का तेल बहुत लाभकारी होता है। बालो की अच्छी ग्रोथ के लिए, हेयर फॉल रोकने के लिए, समय से बालो के सफेद होने पर उनको रोकने के लिए, दो मुंह बालो के लिए, गंजेपन जैसी परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए कलोंजी के तेल से अपने सिर व बालो में मालिश करें। आपको सभी परेशानियों से छुटकारा मिल जाएगा।

5 डार्क सर्कल्स दूर करे

एक चम्मच कलौंजी के तेल में एक चम्मच गाजर का रस मिलाकर सोने से पहले आंखो के चारो और लगाए और सुबह उठकर धोले। इसके लगाने से डार्क सर्कल्स की परेशानी दूर हो जाएगी।

6 तनाव कम करे

आजकल के दौर में हर इंसान तनाव और चिंता से ग्रस्त है ऐसे में कलोंजी बहुत कारगर मानी जाती है। आपके आहार में कलोंजी को शामिल करे यह आपको तनाव और चिंता से छुटकारा दिलाने में मदद करेगी।
आप चाहे तो अपनी दिनचर्या की चाय में एक चम्मच कलौंजी का तेल मिलाकर पी सकते हैं। यह आपको तनाव और चिंता से मुक्ति दिलाएगी।

7 मुँहासे दूर करे

आप नीबू का रस और कलौंजी का तेल मिलकर त्वचा की कई समस्याओं को ठीक कर सकते हैं। एक चम्मच निबू के रस में एक चम्मच कलौंजी का तेल मिलाए और अपने चेहरे पर दिन में दो बार इस तेल को लगाएं। आपके मुँहासे गायब हो जाएंगे।
कलौंजी के तेल को फटी एड़ी पर लगाने से एड़ी सही हो जाती है।

8 अस्थमा को कम करता है

कलोंजी अस्थमा को कम करने में भी मदद करता है। शहद की थोड़ी मात्रा में कलोंजी का पाउडर मिला लेे और गर्म पानी में मिलाकर इसका रोजाना सेवन करें। यह आपके अस्थमा को कम करने में मदद करता है। लेकिन इसका सेवन आपको कम से कम 45 दिनों तक करना होगा, और इसके सेवन करने के समय ठंडे पेय और भोजन से जरूर बचें।

9 जोड़ों का दर्द

जोड़ो के दर्द से छुटकारा पाने के लिए एक मुट्ठी कलोंजी के बीज लें, और इसे सरसों के तेल के साथ अच्छी तरह गर्म करें। तेल से धुआं आने लग जाती हैं तो इसे आंच से उतार लें और इसे थोड़ा ठंडा करें। इस प्रकार तेल तैयार हो जाता है। जब आपके जोड़ो में दर्द होता है तो इस तेल से मालिश करे जोड़ो के दर्द में आराम मिल जाएगा।

10 ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है

जिन लोगों को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है। वे लोग उच्च रक्तचाप को नियंत्रण में रखने के लिए आधा चम्मच कलौंजी के तेल को गर्म पानी के साथ पिएं।

और पढ़ें: स्कीन के लिए हल्दी के फायदे

11 दांत मजबूत बनाता है

दांतों की परेशानी जैसे मसूड़ों की सूजन या रक्तस्राव, और कमजोर दांतों के लिए कलोंजी बहुत फायदेमंद है। वैसे आपको एक दंत चिकित्सक को दिखाने की जरूरत है, लेकिन आप अपने दांतो कि समस्या दूर करने के लिए दिन में दो बार दही और थोड़े से कलौंजी के तेल से भी अपने दांतों की मालिश कर सकते हैं।

12 आंखो के लिए

आयुर्वेद के अनुसार, कलौंजी का तेल आंखों की लालिमा, लगातार पानी देने जैसी आंखों की समस्याओं को तुरंत ठीक करता है। इसीलिए एक गिलास गाजर के रस के साथ कलौंजी का तेल मिलाकर सेवन करें। आपको राहत मिलेगी।
आंखों से जुड़ी समस्याओं के लिए कलौंजी का तेल लेने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें।

13 पेट का अल्सर ठीक करता है

पेट का अल्सर काफी दर्दनाक होता हैं। शोधकर्ता बताते हैं कि काले बीज खाने से न केवल पेट के अल्सर कम होते हैं बल्कि यह पेट की परत को अल्कोहल के दुष्प्रभाव से भी बचाता है और पाचन शक्ति को बढ़ाता है।

14. एलर्जी

कलौंजी एलर्जी के लिए बहुत स्वास्थ्यवर्धक हैं सांस की एलर्जी के लिए बहुत फायदेमंद हैं।

और पढ़ें: गर्भवती महलाओं के लिए कैल्शियम

आपको कलौंजी के फायदे | Kalonji Benefits in Hindi यह जानकारी कैसी लगी कमेंट बॉक्स ने लिखकर जरूर बताए | कोई जानकारी रह गई और आपके कोई प्रश्न हो तो कमेंट बॉक्स में लिखें हम जल्द से जल्द आपको जवाब देने की कोशिश करेंगे।
अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगे और आपको ऐसी जानकारी पड़ना और अपनी नॉलेज को बढ़ाना चाहते हो तो दिए गए न्यूज़लैटर बॉक्स में अपनी डिटेल भरकर सब्सक्राइब करे और दिए गए Bell Icon को जरूर दबाए
जिससे आपको ई- मेल और
Mobile Notification के जरिए समय – समय नई जानकारी के लिए अपडेट कर सके धन्यवाद।

Leave a Comment

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *