Advertisement
Home आहार व पोषण आहार इलायची और मिश्री के फायदे | सालम मिश्री के फायदे

इलायची और मिश्री के फायदे | सालम मिश्री के फायदे

0
384
इलायची और मिश्री के फायदे
Advertisement

इलायची और मिश्री के फायदे | सालम मिश्री के फायदे | देसी खांड और चीनी के बीच का अंतर | नवजात शिशुओं के लिए मिश्री पानी के फायदे | सुबह खाली पेट देसी घी और मिश्री खाने के फायदे

सभी की रसोईं में इलायची का उपयोग किया जाता है। लेकिन किसी को नही पता की इस छोटी सी इलायची के कितने फायदे हैं।
अगर इलायची को मिश्री के साथ खाते हैं तो हम कई गंभीर बीमारियों से बच सकते हैं आइए जानते है इलायची और मिश्री के फायदे

इलायची और मिश्री के फायदे

इलायची और मिश्री में काफी गुण होते है जो हमारे शरीर के लिए लाभदायक है।

  1. मुंह में छाले की समस्या को दूर करने के लिये इलायची को महीन पीसकर उसमें पिसी हुई मिश्री मिलाकर जीभ पर रखने से छाले दूर होते हैं।
  2. इलायची के पाउडर ने खरबूजों के बीज का मगज और मिश्री के पाउडर बनाकर रख ले। रोजाना 2-3 ग्राम का सेवन करने से पथरी टूट-टूट कर निकल जाती है।
  3. इलायची और मिश्री का सेवन लीवर विकार की समस्याओं से राहत दिलाता है।
  4. पाचन सम्बन्धी समस्याओं को दूर करता है।
  5. गर्भवती स्त्री को भूख ना लगने पर एक चम्मच इलायची पाउडर में 4 ग्राम मिश्री मिलाकर सुबह और शाम सेवन करने से भूख लगने लगती है।
  6. मुंह आने वाली दुर्गंध इलायची और मिश्री के खाने से दूर हो जाती है।
  7. इलायची और मिश्री का रोजाना सेवन पुरुषो की यौन क्षमता को बढ़ाता है।
  8. इलायची और मिश्री खाने से पेट की गैस खत्म हो जाती है, उल्टी बंद हो जाती है।
  9. 5–10 बूंद इलायची तेल में मिश्री मिलाकर रोजाना सेवन करने से सांसों के रोग में लाभ होता है।

सालम मिश्री के फायदे

  1. पाचन नलिका में जलन होने पर सालम मिश्री का सेवन फायदेमंद होता हैं।
  2. सालम मिश्री टी बी / क्षय रोगों में फायदेमंद है।
  3. अगर कोई वजन बढ़ाना चाहता है तो सालम मिश्री का सेवन करे इससे वजन बढ़ता है।
  4. सालम मिश्री खाने से पुरुषो की ताकत बढ़ती है।
  5. इससे मांस की वृद्धि होती है
  6. मानसिक और शारीरिक थकावट में भी सालम मिश्री फायदेमंद होती है।
  7. दस्त और एसिडिटी के कारण पाचन तंत्र की कमजोरी में भी सालम मिश्री फायदा करती है।
  8. यह शरीर के पित्त और वात दोष को दूर करती है।
  9. सालम मिश्री से वीर्य में वृद्धि होती है।
  10. इसकी तासीर ठंडी होती है इसीलिए इसके सेवन से शरीर की गर्मी दूर हो जाती है
  11. सालम मिश्री के सेवन रक्त तथा पित्त की सफाई हो जाती है।
  12. सालम मिश्री एसिडिटी, पेट के अल्सर व पेट से सम्बन्धित अन्य रोगों में लाभदायक है।

देसी खांड और चीनी के बीच का अंतर

1. देसी खांड चीनी से कहीं ज्यादा लाभकारी है। देसी खांड शुद्ध होती है यह पोषक तत्वों से भरपूर होती हैं इसके सेवन से हमारी सेहत को कई फायदे होते हैं जबकि चीनी हमारे सेहत के लिए खतरनाक है।

2. गन्ने के रस से ही देसी खांड और चीनी बनी होती है। लेकिन चीनी अत्यधिक रिफाइन की जाती है। जिससे चीनी के अंदर फाइबर और पोषण खत्म हो जाते हैं। देसी खांड कम रिफाइन होती है। इसको बनाने में केमिकल का इस्तेमाल नहीं किया जाता हैं। जिससे इसमें फाइबर और पोषण मौजूद रहते हैं।

3. चीनी खाने से डायबिटीज लेवल गड़बड़ा जाता है और इसके सेवन से कई दूसरी बीमारियों भी हो जाती हैं। इसलिए बेहतर होगा कि आप चीनी की बजाए देसी खांड का सेवन करें।

4. चीनी हमारे रक्त को गाढा बनाती है जिससे ब्लड रक्त सूक्षम वाहिनियों द्वारा हमारे शरीर के कई भागों में नही पूछता है जिससे कई बीमारियां ज्यादातर दांतों व् हड्डियों के रोग हो जाते है। और खांड में मौजूद आयरन खून में हीमोग्लोबिन के लिए अच्छा होता है। आयरन की कमी एनीमिया रोग होता है और खांड में आयरन होता है जिससे एनीमिया रोग दूर हो जाता है।

Advertisement

5. चीनी में सिर्फ ग्लूकोस की मात्रा होती है और देसी खांड में कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटैशियम, फाइबर, आयरन और एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। सही बात यह है कि चीनी खाने से अच्छा है देसी खांड का सेवन करें जिससे कोई नुकसान भी नही होता है लेकिन देसी खांड सेवन भी अत्यधिक नही करे।

मिश्री के बारे में पूछे जाने वाले सवाल

नवजात शिशुओं के लिए मिश्री पानी के फायदे

  1. हिचकी में फायदा करता है।
  2. पाचन तंत्र की परेशानियां, गैस या पेट फूलना, अम्लता और कब्ज की समस्या होती है तो मिश्री पानी फायदेमंद है।
  3. बच्चे के पेट दर्द होने पर मिश्री पानी फायदेमंद होता है।

सुबह खाली पेट देसी घी और मिश्री खाने के फायदे

  1. देशी घी में एंटीऑक्सिडेंट पाया जाता है। यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। प्रतिदिन सुबह खाली पेट एक चम्मच देशी घी में मिश्री मिलाकर खाने से शरीर निरोगी रहता है।
  2. सुबह खाली पेट देशी घी में मिश्री मिलाकर खाने से दुबलेपन की समस्या दूर होती है।
  3. खाली पेट देशी के घी में मिश्री मिलाकर सेवन करने से आँखों की रोशिनी तेज होती है।

आमला चूर्ण और मिश्री खाने के फायदे

  1. आंवला चूर्ण में 5-10 ग्राम मिश्री मिलाकर सेवन करें। इससे हिचकी और उल्टी बंद हो जाती है।
  2. सिर दर्द होने पर भी आमला चूर्ण और मिश्री फायदेमंद होती है।
  3. स्वप्न दोष समस्या में आधा चम्मच आमला चूर्ण और आधा चम्मच मिश्री पाउडर का सेवन रात को सोते समय करे, फायदा होगा।
  4. श्वेत प्रदर रोग में भी मदद करता है।

मेथी और मिश्री का पीरियड्स में क्या फायदा होता है?

जिन महिलाओं को पीरियड्स में दर्द होता है। उन्हे मेथी के चूर्ण को और पीसी हुई मिश्री को मिलाकर सुबह-शाम गुनगुने पानी या दूध के साथ लेने पर पीरियड्स के दर्द में आराम मिलता है।

प्रेगनेंसी में मखाना और मिश्री खा सकते हैं क्या?

प्रेगनेंसी में मखाना और मिश्री खा सकते हैं लेकिन पहले डॉक्टर से जरूर पूछ ले।

Advertisement

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here