Anjeer benefits and side effects | अंजीर के फायदे इन हिंदी | अंजीर के फायदे, नुकसान | अंजीर खाने से क्या नुकसान होता है?

  • अंजीर में अनेक औषधीय गुण होते है। खाने का स्‍वाद बढ़ाने वाले गुण भी अंजीर में होते है। इस फल का इस्‍तेमाल कई वर्षों से रोगों के इलाज में किया जाता था। अंजीर हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत फायदेमंद होता है।
  • अंजीर बहुत रसीला और गूदेदार फल होता है। अंजीर हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है। यह कब्‍ज, जुकाम और फेफडों से संबंधित रोगों के इलाज के लिए लाभकारी है।

और पढ़ें:  ओमेगा 3 फैटी एसिड के फायदे

और पढ़ें: Nimbu ke Fayde

अंजीर खाने के फ़ायदे ( Anjeer benefits and side effects | अंजीर के फायदे इन हिंदी )

1. कब्ज

  • 3 से 4 पके अंजीर लेे फिर दूध में उबालकर रात्रि में सोने से पहले खाएं और ऊपर से उसी दूध का सेवन कर लें। इससे कब्ज और बवासीर में लाभ होता है।
  • 10 ग्राम अंजीर लेे रात्रि में सोने से पहले सेवन करने से कब्ज़ में लाभ होता है।
  • 5 से 6 अंजीर को 250 मिली पानी में उबाल लें। फिर पानी को छानकर पिए। आपको कब्ज में राहत मिल जाएगी।
  • 2अंजीर को रात को पानी में भिगोकर सुबह चबाकर खाएं ऊपर से पानी पीने पेट साफ हो जाता है।
  • अंजीर के 4 दाने रात को सोते समय पानी में डालकर रख दें। सुबह उन दानों को थोड़ा सा मसलकर पानी पीने से अस्थमा में बहुत लाभ मिलता है तथा इससे कब्ज भी नष्ट हो जाती है।

2. दमा

  • दमा जिसमें कफ निकलता हो उसमें अंजीर खाना लाभकारी है। इससे कफ बाहर आ जाता है तथा रोगी को शीघ्र ही आराम भी मिलता है।
  • 2 से 4 सूखे अंजीर को दूध में गर्म करें। सुबह शाम दूध अंजीर का सेवन करने से कफ की मात्रा घटती हैं। शरीर में नई शक्ति आती है और दमा रोग भी मिटता है।

3. बार-बार प्यास लगना

  • बार-बार प्यास लगने पर अंजीर का सेवन करें। बार-बार प्यास नहीं लगेगी।

4. मुंह के छाले

  • मुंह के छाले से छुटकारा पाने के लिए अंजीर का रस लगाए।

5. प्रदर रोग

  • अंजीर का रस 2 चम्मच शहद के साथ मिलाए। इसका प्रतिदिन सेवन करें।
  • इसके सेवन से दोनों प्रकार के प्रदर रोग नष्ट हो जाते हैं।

6. दांतों का दर्द

  • रुई को अंजीर के दूध में भिगोकर दर्द वाले दांत पर लगाएं दांतों का दर्द दूर हो जाता है।

7. बार बार पेशाब आना

  • 3-4 अंजीर खाकर, 10 ग्राम काले तिल चबाने से बार बार पेशाब नहीं आता है।

और पढ़ें:– भांग के पत्ते के फायदे

खून बढ़ाने के लिए क्या-क्या खाना चाहिए

8. त्वचा के रोग

  • त्वचा सम्बंधी रोगों से छुटकारा पाने के लिए अंजीर का दूध लगाए।
  • खुजली, फुंसी और दाद होने पर अंजीर का दूध लगाए।
  • बादाम और छुहारे के साथ अंजीर को खाने से दाद, खुजली, फुंसी और त्वचा के सारे रोग ठीक हो जाते हैं।

9. कमजोरी दूर करे

  • पके अंजीर और सौंफ को बराबर लेकर सेवन करें। इसका सेवन 40 दिनों तक करने से शारीरिक कमजोरी दूर हो जाती है।
  • अंजीर को दूध में उबालें फिर अंजीर को खाकर दूध पीलेे कमजोरी दूर हो जाती है तथा खून भी बढ़ता है।

10. रक्तविकार दूर करे

  • 10 मुनक्के, 5 अंजीर को 200 मिली दूध में उबालकर खा लें ।
  • फिर ऊपर से उसी दूध का सेवन करें, इससे रक्तविकार दूर हो जाता है।

11. पेचिश और दस्त

  • अंजीर का काढ़ा बनाकर 3 बार पिए पेचिश और दस्त दूर हो जाता है।

12. ताकत को बढ़ाने वाला

  • सूखे अंजीर के टुकड़े और छिली हुई बादाम गर्म पानी में उबालें।
  • इसे सुखाकर इसमें दानेदार शक्कर, पिसी इलायची, केसर, चिरौंजी, पिस्ता और बादाम बराबर मात्रा में मिलाकर गाय के घी में डाले 8 दिन रहने दें। बाद में रोजाना सुबह 20 ग्राम तक सेवन करें।
  • छोटे बालकों की शक्तिक्षीण के लिए यह औषधि फायदेमंद है।

13. जीभ की सूजन

  • सूखे अंजीर का काढ़ा बनाकर उसका लेप करने से गले और जीभ की सूजन हट जाती है।

14. दस्त साफ जाने के लिए

  • दो सूखे अंजीर सोने से पहले खाकर ऊपर से पानी पीले इससे सुबह दस्त साफ जाते है।

15. टी.बी के रोग

  • टी.बी के रोग में अंजीर खाना चाहिए। अंजीर से शरीर में खून बढ़ता है। अंजीर की जड़ और डालियों की छाल का उपयोग औषधि के रूप में होता है।

16. फोड़े-फुंसी

  • अंजीर का पेस्ट बनाकर फोड़ों पर बांधने से यह फोड़ों को पकाती है।

17. गिल्टी

  • अंजीर को चटनी की तरह पीसकर गर्म करके पेस्ट बनाएं।
  • 2-2 घंटे के अन्तराल से इस प्रकार पेस्ट बनाकर बांधने से गिल्टी जल्दी पक जाती है।

18. सफेद दाग

  • अंजीर के पेड़ की छाल को पानी के साथ पीस लें, फिर उसमें 4 गुना घी डालकर गर्म करें।
  • इसे हरताल की भस्म के साथ सेवन करने से सफेद दाग मिटता है।
  • अंजीर के कच्चे फलों से दूध निकालकर सफेद दागों पर लगातार 4 महीने तक लगाने से सफेद दाग मिट जाते हैं।
  • अंजीर के पत्तों का रस सफेद दाग पर सुबह और शाम को लगाने से सफेद दाग मिट जाते हैं।
  • अंजीर को घिसकर नींबू के रस में मिलाकर सफेद दाग पर लगाने से लाभ होता है।

19. गले के भीतर की सूजन

  • सूखे अंजीर को पानी में उबालकर गले में लेप करने से सूजन मिट जाती है।

20. श्वासरोग

  • अंजीर और गोरख इमली (जंगल जलेबी) 5-5 ग्राम मिलाकर प्रतिदिन सुबह को सेवन करने से दिल की धड़कन का अवरोध तथा श्वासरोग का कष्ट दूर हो जाता है।

21. शरीर की गर्मी

  • पका हुआ अंजीर लेकर, छीलकर उसके आमने-सामने दो चीरे लगाएं। इसमें शक्कर भरकर रात को ओस में रख दें।
  • इस प्रकार अंजीर को 15 दिनों तक रोज सुबह खाने से शरीर की गर्मी निकल जाती है और रक्तवृद्धि होती है।

22. जुकाम

  • 5 अंजीर को पानी में डालकर उबालें। इसे छानकर इस पानी को गर्म-गर्म सुबह और शाम को पीने से जुकाम में लाभ होता है।

23. फेफड़ों के रोग

  • फेफड़ों के रोगों में पांच अंजीर की एक गिलास पानी में उबालकर फिर छानकर सुबह-शाम पीना चाहिए।

24. मसूढ़ों से खून आना

  • अंजीर को पानी में उबालकर इस पानी से रोजाना दो बार कुल्ला करें।
  • इससे मसूढ़ों से आने वाला खून बंद हो जाता है तथा मुंह से दुर्गन्ध भी नहीं आती है।

25. तिल्ली रोग में

  • अंजीर 20 ग्राम को सिरके में डुबोकर सुबह और शाम रोजाना खाने से तिल्ली रोग ठीक हो जाती है।

26. सूखी खांसी

  • अंजीर का सेवन करने से सूखी खांसी दूर हो जाती है
  • अंजीर पुरानी खांसी वाले रोगी को लाभ पहुंचाता है क्योंकि यह बलगम को पतला करके बाहर निकालता है।

आपको Anjeer benefits and side effects | अंजीर के फायदे इन हिंदी यह जानकारी कैसी लगी कमेंट बॉक्स ने लिखकर जरूर बताए | कोई जानकारी रह गई और आपके कोई प्रश्न हो तो कमेंट बॉक्स में लिखें हम जल्द से जल्द आपको जवाब देने की कोशिश करेंगे।
अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगे और आपको ऐसी जानकारी पड़ना और अपनी नॉलेज को बढ़ाना चाहते हो तो दिए गए न्यूज़लैटर बॉक्स में अपनी डिटेल भरकर सब्सक्राइब करे और दिए गए Bell Icon को जरूर दबाए
जिससे आपको ई- मेल और
Mobile Notification के जरिए समय – समय नई जानकारी के लिए अपडेट कर सके धन्यवाद।

Show 1 Comment

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *