20 black cherry benefits and side effects | 20 काली चेरी के फायदे और नुकसान | Benefits of Black Cherries and side effects | काली चेरी के फायदे

Contents hide
4 काली चेरी के फायदे

काली चेरी

चेरी दिखने में तो बहुत छोटी होती है लेकिन इसमें पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। चेरी खट्टी और मीठी होती है, मीठी चेरी काली चेरी होती है। काली चेरी हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होती है। इसमें विटामिन, खनिज और एंटीऑक्सिडेंट जैसे प्रमुख पोषक तत्व पाए जाते हैं जो हमारे स्वस्थ को मजबूत बनाने के लिए आवश्यक होते हैं। यह हमारी त्वचा के लिए बहुत अच्छी होती है।
आइए जानते हैं काली चेरी के फायदे

काली चेरी में पोषक तत्व

पोषक तत्व100 ग्राम काली चेरी में
कैलोरी63
कार्बोहाइड्रेट16
प्रोटीन1 ग्राम
चीनी12.8
पोटैशियम222 मिग्रा
फाइबर2 ग्राम

काली चेरी और लाल चेरी में अंतर

  • लाल चेरी का रंग लाल होता हैं। यह स्वाद में हल्की खट्टी और मीठी होती है। लाल चेरी का सेवन रस और मिठाइयों में किया जाता है।
  • ब्लैक चेरी का रंग गहरा बैंगनी होता है, जो लगभग काला जैसा दिखता है। ये स्वाद में बहुत मीठी होती हैं और इनमें गूदा अधिक होता है। ये चेरी पूरी-पूरी खाई जाती है।

काली चेरी के फायदे

1. काली चेरी खराब कोलेस्ट्रॉल कम करता है

  • काली चेरी खाने से शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल कम हो जाता है।
  • रोजाना काली चेरी खाने खराब कोलेस्ट्रॉल कम हो जाता है जो हृदय की समस्याओं को रोक सकता है। रोजाना काली चेरी का सेवन करना चाहिए।

2. केंसर से लड़े

  • काली चेरी में कुछ इस प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो कैंसर से लड़ने में सहायता करते हैं।
  • इसमें रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले फिनॉलिक एसिड और फ्लेवोनॉयड होते हैं यह मिलकर कैंसर की कोशिकाओं को बढ़ने से रोकते हैं।

3. खांसी सही हो जाती है

  • काली चेरी की छाल खांसी से छुटकारा दिलाती है खांसी दूर करने में दवाई का कार्य करती है।
  • काली चेरी की छाल से कफ की समस्या भी खत्म हो सकती है। खांसी होने पर काली चेरी की छाल का सेवन करें।

4. दिल के लिए फायदेमंद है

  • काली चेरी दिल के लिए भी फायदेमंद हैं। काली चेरी में मौजूद मेलाटोनिन रक्त लिपिड के स्तर को कम करके स्ट्रोक और हृदय रोग के जोखिम को कम करता है। काली चेरी खाने से दिल की समस्या खत्म हो जाती है।

5. हड्डिया और दांत मजबूत करे

  • हमारा शरीर अच्छे से चलता रहे उसके लिए हड्डियो का मजबूत और स्वस्थ होना बहुत जरुरी होता है।
  • हड्डियों की मजबूती के लिए काली चेरी का सेवन जरूर करना चाहिए।
  • इसमें विटामिन सी होता है जो हड्डियों को घनत्व प्रदान करती है इसके अलावा इसमें कैल्शियम भी होता है जिससे दांत और हड्डियां दोनों मजबूत बनती हैं।

6. गठिया रोग दूर करे

  • काली चेरी में एंथोसियानिन नाम का तत्व होता है जो गठिया रोग से राहत दिलाता है।
  • जब किसी व्यक्ति के गठिया रोग होता है तो उसके शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने लगती है जिससे हड्डियां ज्यादातर जोड़ों में सूजन आने लग जाती है।
  • काली चेरी में मौजूद इंथोसियानिन नाम का तत्व यूरिक एसिड को बढ़ने से रोकता है।

7. काली चेरी रक्त दबाव को नियंत्रित करता है

  • काली चेरी खाने से रक्तचाप कम हो जाता है जिससे दिल के दौरे और अन्य हृदय रोग रूक सकते है।
  • काली चेरी का रस स्ट्रोक की संभावना को लगभग 35% तक कम कर सकता है।

8. सूजन हट जाती है

  • काली चेरी खाने से सूजन दूर हो जाता है। काली चेरी में एंथोसायनिन तत्व होता है जो दर्द को कम करता है और गठिया, गाउट या किसी और वजह से आपको सूजन आ रहा है तो उसे भी दूर कर देता है। इसीलिए गठिया, गाउट के मरीजों को नियमित रूप से काली चेरी का सेवन करने की आवश्यकता है।

9. मधुमेह के मरीजों के लिए फायदेमंद है

  • काली चेरी खाने से इंसुलिन के स्तर को बढ़ सकता है, जो रक्त शर्करा को नियंत्रित करती है।
  • इसीलिए मधुमेह के रोगियों के लिए काली चेरी बहुत फायदेमंद है अगर इसका सेवन भोजन के बीच नाश्ते के रूप में करे तो।

10. नींद की समस्या दूर करे

  • काली चेरी में मेलाटोनिन नामक एक हार्मोन होता है जिससे नींद आती है।
  • मेलाटोनिन हार्मोन से जागने और सोने का चक्र बन जाता है। जिन लोगो को नींद की समस्या है उन्हें काली चेरी खानी चाहिए। सोने से पहले काली चेरी खाए आपको अच्छी नींद आयेगी।

11. संक्रमण से लड़ने की क्षमता बढ़ती है

  • काली चेरी ऐसे गुण होते हैं जिनसे जीवाणु संक्रमण से लड़ने की क्षमता बढ़ती है। इसीलिए काली चेरी स्वादिष्ट एंटी-बैक्टीरियल भोजन के रूप में उपयोग करना चाहिए।
  • काली चेरी के सेवन से बैक्टीरिया के संक्रमण से लड़ने और बीमारियों को खत्म करने की क्षमता बढ़ती है।

12. वर्कआउट करने वाले के लिए फायदेमंद

  • जो लोग वर्कआउट करते हैं उनके लिए काली चेरी खाना बहुत फायदेमंद होता है।
  • काली चेरी में विरोधी भड़काऊ और एंटीऑक्सिडेंट गुण होते हैं जिससे वर्कआउट के बाद जो मांसपेशियों में दर्द, क्षति और सूजन होती है उसमे राहत मिलता है।

13. त्वचा को स्वस्थ्य रखे

  • काली चेरी की पानी की मात्रा अधिक रहती है जिससे शरीर हाइड्रेट रहता है।
  • पानी शरीर के विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है जिससे त्वचा स्वस्थ्य रहती है। जलयोजन के कारण, त्वचा कोशिकाएं मोटी और पूर्ण हो जाती हैं।

14. त्वचा को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाए

  • काली चेरी का रस रोजाना पीने से त्वचा को सूरज की हानिकारक पराबैंगनी ए और बी किरणों से क्षति नहीं होती है। काली चेरी में एंथोसायनिन, एंटी-कार्सिनोजेन गुणों के कारण त्वचा कैंसर से भी बच सकते हैं।
  • काली चेरी में बीटा-कैरोटीन भी होता है जो त्वचा के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं।

15. दाग धब्बे दूर करे

  • काली चेरी आपकी त्वचा से काले धब्बे को हटाने में मदद कर सकती है जो धूप की वजह से दिखाई देते है। काली चेरी में विटामिन सी होता है इसीलिए इसको खाने आपकी त्वचा को एक प्राकृतिक चमक मिल जायेगी।
  • काली चेरी को पिसे और उसमे एक चुटकी हल्दी और एक चम्मच शहद के साथ मिलाएं। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं 10-15 मिनट के बाद धोले। दाग धब्बे दूर हो जाएंगे।

16. चेहरे पर अधिक उम्र नही दिखती है

  • काली चेरी खाने से चेहरे से ऐसा नहीं लगता कि इस व्यक्ति की उम्र अधिक है।
  • काली चेरी में एंथोसायनिन शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट हैं जो कोशिकाओं के नुकसान को रोकने में मदद करते हैं, जिससे झुर्रियों की तरह उम्र बढ़ने के संकेत नही दिखते हैं।

17. बालों का झड़ना बंद हो जाता है

  • एनीमिया की वजह से बाल अधिक झड़ते हैं और इस समस्या से निपटने के लिए आपको अपने आहार में लोहे मात्रा आवश्यक है।
  • काली चेरी का रस लोहे का अच्छा समृद्ध स्रोत है और इसलिए, इस रस का रोजाना सेवन एनीमिया को ठीक कर सकता है, जिससे बालों का झड़ना कम हो सकता है।

18. दो मुंह के बाल सही करे

  • जब बालो मे पोषक तत्वों की कमी हो जाती है तो बाल दो मुंह के हो जाते हैं।
  • काली चेरी सारे पोषक तत्व होते है जो बालों के लिए आवश्यक है इसीलिए काली चेरी का सेवन करना चाहिए। जिससे बाल मजबूत हो जायेंगे।

19. पाचन शक्ति बढ़ाता है

  • काली चेरी में फाइबर की अच्छी मात्रा होती है जो पाचन शक्ति को बढ़ाता है जिससे कब्ज की समस्या भी खत्म हो जाती है।

20. सर्दी जुकाम होने पर

  • काली चेरी की छाल सेवन करने से सर्दी, जुकाम सही हो जाता है।

काली चेरी के नुकसान

  1. इसके खाने से दस्त की समस्या हो सकती है।
  2. जिन लोगो को फलों से एलर्जी है उन्हे काली चेरी खाने से डॉक्टर से संपर्क करें।
  3. काली चेरी की छाल का अधिक सेवन नुकसानदायक होता है।
  4. किसी की दवाई चल रही है तो काली चेरी खाने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें।
  5. गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिला काली चेरी खाने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें।
Leave a Comment

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *